‘बच्चों के सीखने और साझा करने के लिए 100 स्वास्थ्य संदेश’ 8-14 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए सरल, विश्वसनीय स्वास्थ्य शिक्षा संदेश हैं । इसलिए इसमें 10-14 साल के युवा किशोर शामिल हैं। हमें लगता है कि 10-14 वर्ष के युवा किशोरों को निश्चित रूप से सूचित किया जाना विशेषत: उपयोगी और महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आयु समूह अक्सर अपने परिवार में छोटे बच्चों की देखभाल करता है। साथ ही अपने परिवार की इस तरह सहायता करने के लिए वे जो काम कर रहे हैं उसे मान्यता देना और उसकी प्रशंसा करना महत्वपूर्ण है।

इन 100 संदेशों में 10 प्रमुख स्वास्थ्य विषयों में से प्रत्येक पर 10 संदेश हैं: मलेरिया, अतिसार (डायरिया, दस्त), पोषण, खाँसी-ज़ुकाम और बीमारी, आँत के कीड़े, जल और स्वच्छता, टीकाकरण, एचआईवी और एड्स, दुर्घटनाएँ और चोट, तथा प्रारंभिक शैशव विकास। ये सरल स्वास्थ्य संदेश माता-पिता और स्वास्थ्य शिक्षकों के लिए घर, स्कूलों, क्लबों और क्लिनिकों में बच्चों के साथ उपयोग करने के लिए हैं।

यहां विषय 10 पर 10 संदेश दिए गए हैं: एचआईवी और एड्स

  1. हमारा शरीर कमाल का है, और हर रोज़ ऐसे विशेष तरीके हैं जिनसे ये सांस लेने, खाने या छूने से जर्म्स से के माध्यम से रोगों से हमारी रक्षा करता है।
  2. एचआईवी एक जर्म है जिसे वायरस कहते हैं (वी वायरस के लिए है)। यह एक विशेष खतरनाक वायरस है जो हमारे शरीर को दूसरे जर्म्स से खुद की रक्षा करने से रोकता है।
  3. वैज्ञानिकों ने एचआईवी के खतरनाक होने से रोकने की दवाएं बनायी हैं लेकिन किसी ने भी इसे शरीर से पूरी तरह से हटाने के तरीके की खोज नहीं की है।
  4. कुछ समय बाद और दवा के बिना एचआईवी से पीड़ित लोगों में एड्स विकसित हो जाता है। एड्स गंभीर रोगों का एक समूह है जो शरीर को कमजोर बनाते जाते हैं।
  5. एचाईवी अदृष्य होता है और रक्त तथा दूसरे तरलों में रहता है जिनका निर्माण सेक्स के दौरान शरीर में होता है। एचाईवी (1) सेक्स के दौरान, (2) संक्रमित माँ से शिशु को और (3) रक्त से पास हो सकता है।
  6. लोग सेक्स से एचआईवी होने से खुद को बचाने के लिए (1) सेक्स नहीं करते, (2) वफादार रिश्ते रखते हैं या (3) कंडोम का इस्तेमाल कर सेक्स (सुरक्षित सेक्स) करते हैं।
  7. आप एचआईवी और एड्स से पीड़ित व्यक्ति के साथ खेल सकते हैं, खाना साझा कर सकते हैं, हाथ पकड़ व गले लगा सकते हैं। ये कार्रवाइयां सुरक्षित हैं और आपको इस तरह वायरस नहीं पकड़ेगा।
  8. एचआईवी व एड्स से संक्रमित लोग कभी-कभार डरे हुए व दुखी होते हैं। किसी भी दूसरे व्यक्ति की तरह, उनको प्रेम और सपोर्ट चाहिए होता है, और उनके परिवार को। वे अपनी चिंताओं के बारे में बात करना चाहते हैं।
  9. उनकी व दूसरों की सहायता के लिए, एचआईवी या एड्स से पीड़ित होने की शंका वाले लोगों को टेस्टिंग व काउंसलिंग के लिए क्लीनिक या अस्पताल जाना चाहिए।
  10. अधिकांश देशों में एचआईवी पॉजिटिव लोगों को सहायता और उपचार मिलता है। ऐंटीरेट्रोवायरल थेरेपी (ART) नाम की दवा उनको लंबा जीवन देती है।

विशेषज्ञ स्वास्थ्य शिक्षकों और चिकित्सकीय विशेषज्ञों द्वारा इन स्वास्थ्य संदेशों की समीक्षा की गई है, और यह ORB स्वास्थ्य वेबसाइट पर उपलब्ध हैं: www.health-orb.org.

यहां उन गतिविधियों के बारे में कुछ सुझाव दिए गए हैं जो बच्चे कर सकते हैं इस विषय को अधिक समझने और अन्य लोगों में यह संदेश बाँटने के लिए।

एचआईवी और एड्स: बच्चे क्या कर सकते हैं?

  • हमारी अपनी भाषा में, अपने स्वयं के शब्दों में, हमारे अपने एचआईवी और एड्स संदेश बनाएँ!
  • यह संदेश याद कर लें, ताकि हम उन्हें कभी भूलें नहीं!
  • अन्य बच्चों और हमारे परिवारों के साथ संदेश साझा करें।
  • एचआईवी और एड्स के बारे में लीफलेट व जानकारियां एकत्र करें और इनकको अपने समुदायों में बांटें।
  • एचआईवी और एड्स के बारे में हमारे सवालों के उत्तर देने के लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को स्कूल आमंत्रित करें।
  • एड्स से पीड़ित बच्चों व लोगों को सहायता देने के तरीके खोजें।
  • खेल लाइफलाइन गेम और उन जोखिम वाले व्यावहारों को जानें जो हमें एचआईवी के संपर्क में ला सकते हैं।
  • एचआईवी एड्स के बारे में एक सही व गलत गेम बनाएं जो बताए कि कैसे एक से दूसरे को एचआईवी पास हो सकता है। सहायता के लिए अंत में सवाल पूछें ।
  • विशेष दोस्ती और यौन भावनाओं के बारे में सीख की सहायता के लिए जीवन कौशल सीखें।
  • फ्लीट ऑफ होप गेम खेल कर पता करें कि कौन से सुरक्षित व्यवहार हमारी विशेष दोस्ती में हमें एचआईवी से बचा सकते हैं।
  • एचआईवी व एड्स वाले लोगों की कठिनाइयों के बारे में सोचें और उनकी सहायता के बारे में सोचें।
  • एचआईवी वाले रोल प्ले करें और पता करें कि एचआईवी वाले व्यक्ति को कैसा एहसास होता है।
  • एचआईवी वाले लोगों के रहन-सहन और उनकी समस्याओं के बारे में कहानियों को सुने व चर्चा करें।
  • प्रश्नोत्तरी बनाए और पता लगाएं कि हम टीकाकरण के बारे में कितना जानते हैं।
  • एचआईवी व एड्स पर हमारे सवालों के लिए हमारे क्लास में सवालों का बॉक्स शुरु करें।
  • एचआईवी और एड्स के बारे में हमारे स्कूल में एक पोस्टर बनाएं।
  • मीना नाम की एक लड़की या राजीव नाम के लड़के और उसकी एचआईवी पीड़ित माँ के बारे में एक प्ले बनाएं और दिखाएं कि कैसे मीना उसकी माँ को क्लीनिक जा कर ART (ऐंटी रेट्रोवायरल थेरेपी) दवाएं लेने के लिए मनाती है।
  • एक एचआईवी और एड्स क्लब बनाएं जो हमारे स्कूल व परिवारों में जागरूकता बढ़ाए।
  • पूछें हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली कैसे काम करती है? हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को कौन से आहारा मजबूत व कार्रवाई के लिए तैयार बनाते हैं? एचआईवी व एड्स क्या है? इनका क्या मतलब है? क्या होता है जब किसी को एचआईवी होने का पता चलता है? क्या होता है जब किसी में एड्स विकसित होता है? कैसे एचआईवी व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को पास होता है? कैसे नहीं होता है? हम आपकी रक्षा कैसे कर सकते है? HIV के लिए लोगों का टेस्ट व उपचार कैसे होता है ? दवाएं किस तरह माँ से बच्चे में HIV जाने के खतरे को कम करती हैं? ART (ऐंटी-रेट्रोवायरल थेरेपी) कैसे काम करती है और कब किसी को इसे लेना चाहिए? हमारी दोस्ती किस तरह से यौन संबंधों में बदल जाती है? कोई व्यक्ति कंडोम कैसे उपयोग करता है? (पुरुष/महिला) HIV पीड़ित हमारे मित्रों व परिवार को स्वस्थ व अच्छा बना रहने में सपोर्ट करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? HIV और AIDS वाले लोगों सहायता वाली नजदीकी क्लीनिक कहां है?

लाइफलाइन खेल या फ्लीट ऑफ होप खेल या एक सच या झूठ खेल पर अधिक जानकारी के लिए या किसी अन्य जानकारी के लिए संपर्क करें www.childrenforhealth.org या clare@childrenforhealth.org

हिन्दी Home